Bhilai Women Day Celebration Programme “नारी बदलेगी – जग बदलेगी “

भिलाई नगर ,6 मार्च 2018:- प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय  विश्व  विद्यालय एवं राजयोगा एजुकेशन एंड रिसर्च फाउण्डेशन के महिला प्रभाग द्वारा पीस आडिटोरियम, सड़क-2, सेक्टर-7, में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपल्क्ष्य में नारी बदलेगी – नया समाज गढ़ेगी विषय पर महिला संगोष्ठी का आयोजन आओ बदले हम विषेष प्रोजेक्ट के अन्तर्गत हुआ जिसमें मुख्य रूप से , सभी वर्गों,  सभी धर्मों की महिला प्रतिनिधियों सहित, शिक्षा , चिकित्सा क्षेत्र एवं गृहणियों बड़ी संख्या में  शिरकत की।

वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी प्राची ने विषय पर प्रकाष डालते हुए बताया कि दिवाल की घड़ी रोज 24 घण्टें में वही समय बताती है आज संसार की घड़ी को देखते है तो रोंगटे खड़े हो जाते है। मुझे आवशयकता है स्वयं को बदलने की। बढ़ती समस्या और घटते मानवीय मुल्यों को देखकर भविष्य  का भय महसुस हो रहा है , क्या करना है स्पष्ट नहीं हो पा रहा है ? हमारा समाज अभी जिस दुर्दशा  में है उसे उससे निकालने कि ताकत एक नारी में है। नारी में सृजनता और संस्कार बनाने की ताकत है। बोल कर बदलने का समय अब चला गया। समय है अभी स्वयं को बदल जग को बदलने का। जिसने खुद को बदलने की विधि अपना ली वही दुसरों को बदल सकता है। निरंतर अपने उपर ध्यान देने कि आवश्यकता है। नारी रिशतो  को निभाने वाली अदभुत मिसाल है। आपने नारी शब्द का अर्थ बताते कहा कि ना अर्थात् नाज़ करूं अपनी शक्ति पर , री अर्थात् रिशता है मेरा ईश्वर के साथ। जब परिस्थति हाथ से निकल जाती है या कोई बड़ी भूल हो जाती है तो अधिकार से परमात्मा से रिशता जोड़ो।

सर्वप्रथम सभी अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम की विधिवत शुभांरभ किया गया।

कार्यक्र्रम में उपस्थित गायत्री शक्ति पीठ की मंगला भराडे ने कहा कि विश्व में आधी जनसंख्या नारी शक्ति की है। बाल्य काल से ही हमें बच्चों को मुल्यों की  शिक्षा देना है।

ईसायी समाज की प्रतिनिधि के रूप में विनिता थामस बहन ने कहा कि जब नेचर के नज़दीक होते है तो प्रभु के नज़दीक होते है। हम अगर अपने को सुपर वुमेन समझते है तो अन्य विशेषताओं के साथ हमें आध्यात्मिक होना ज़रूरी है। हम सामने वाली की गलती को जब तक नहीं भुलेंगे तब तक हम उसे माफ नही कर पायेंगे।  आपने अपना अनुभव सुनाते हुए बताया कि राजयोग के अभ्यास से ईगो और चिंता करने की आदत दूर हो गई। ईसायी समाज की ही एस . जे . फिस्ज बहन ने कहा कि आज महिला ही महिला की विरोधी बन गई है। प्रभु का साथ है तो कोई विरोधी नही हो सकता।

मुस्लिम समाज से नादिरा यास्मिन ने कहा कि नारी के विभिन्न रूपों में सबसे अच्छा रूप मां का होता है। मां बच्चों के लिए पहला मदरसा होती है। बच्चों से  कुछ भी गलती होती है तो उसकी जिम्मेवारी मां की होती है। सभी क्षेत्रों में धैर्यता की आवश्यकता है।

सिख समाज कि सद्य अमरजीत कौर ने ब्रह्माकुमारी बहनों और सभी को इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए शुभकामनाये दी |BK ASHA Given Godly Gift Point of Light to Amarjeet Kour Sister BK ASHA Given Godly Gift Point of Light to F.J.FICHJ BK ASHA Given Godly Gift Point of Light to MANGLA BHARADE BK ASHA Given Godly Gift Point of Light to Naadeera Yasmin Sister BK ASHA Given Godly Gift Point of Light to Veenita Thomas Sister BK KRITIKA & BK POSHAN SONG ON Religions Womence day confrence BK MADHURI, MANGLA BHARADE, F.J.FICHJ,BK ASHA,NADEERA YASMIN,VINITA THOMAS,AMARJEET KOUR,BK PRACHI (1) BK MADHURI, MANGLA BHARADE, F.J.FICHJ,BK ASHA,NADEERA YASMIN,VINITA THOMAS,AMARJEET KOUR,BK PRACHI (2) BK MADHURI, MANGLA BHARADE, F.J.FICHJ,BK ASHA,NADEERA YASMIN,VINITA THOMAS,AMARJEET KOUR,BK PRACHI (4) BK MADHURI, MANGLA BHARADE, F.J.FICHJ,BK ASHA,NADEERA YASMIN,VINITA THOMAS,AMARJEET KOUR,BK PRACHI CANDLE LIGHTING OF BK MADHURI, MANGLA BHARADE, F.J.FICHJ,BK ASHA,NADEERA YASMIN,VINITA THOMAS,AMARJEET KOUR,BK SAKSHI & BK GEETA DIVINE GROUP STUDENT KAVYA PERFORMING DANCE INTERNATIONAL WOMEN'S DAY AUDIENCE OF ALL Religions (2) INTERNATIONAL WOMEN'S DAY AUDIENCE OF ALL Religions Pledge for Positive life & Spiritual life ALL Religions Womens Pledge for Positive life & Spiritual life BK MADHURI, MANGLA BHARADE, F.J.FICHJ,BK ASHA,NADEERA YASMIN,VINITA THOMAS,AMARJEET KOUR,BK PRACHI & ALL Religions. Womens

भिलाई सेवाकेन्द्रेां की मुख्य संचालिका ब्रह्माकुमारी आशा ने कहा कि परिवर्तन का प्रारंभ नारी से शुरू होती है। आज लोगों के पास परचिंतन के लिए समय है लेकिन आत्मोन्नति के लिए समय नही। आपने सभी से दो प्रतिज्ञा करवाते हुए कहा कि पहला मैं एक ,दुसरे के साथ सकारात्मक लेन देन करूंगी  और उसमें नकारत्मक देखते हुए भी उसे माफ करूंगी । दूसरी प्रतिज्ञा कराते हुए कहा कि आध्यात्मिक शक्ति को अपने जीवन में धारण करूंगी।

वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी माधुरी ने राजयोग द्वारा नारी शक्ति के प्रदर्शन और दर्शन को स्पष्ट करते हुए बताया कि जब नारी प्रदर्शन करती है तो क्रांति और दर्शन करने से शांति की प्राप्ति होती है। नारी को सम्मान देने से अधिकार की प्राप्ति स्वतः ही हो जाती है। इसके लिए हमें नहीं मुझे आज और अभी से शक्ति स्वरूपा बनना है। जिसका सभी को राजयोग द्वारा अनुभव कराया गया।

कार्यक्रम का सुंदर मंच संचालन ब्रह्माकुमारी साक्षी ने किया। डिवाईन ग्रुप की काव्या ने शक्ति का नाम नारी है गीत पर सुंदर स्वागत नृत्य प्रस्तुत किया। पोषण भाई और कृतिका बहन ने मधुर गीत की प्रस्तुति दी।

“Change ourselves – Self Progress” programme in Peace Auditorium at Chhattisgarh

Regional In-charge of Brahma Kumaris, Chhattisgarh BK Kamla expressed her views on occasion of inauguration of “Change ourselves – Self Progress” programme in Peace Auditorium Sector 7. ,Bhilai. She shared that each of us are special as God is taking care of us. The program was started with candle lighting by BK Kamla, BK Asha any other Brahma Kumaris at Chhattisgarh. BK Kamla expressed that human desires can never be fulfilled, and one should use facilities as per need only. We had committed sins in our lives due to weaknesses of our senses, now we should do good deeds through practice of Rajayoga.BK Poshan sang a beautiful song “Aao Badlein Hum to Badle Jag”.

 

इस समय परमात्मा हमारी मात-पिता बनकर हमारी पालना कर रहे है,भगवान की दृष्टि के पात्र बनना साधारण बात नही। उक्त उद्गार रायपुर शांति सरोवर से पधारी ब्रह्माकुमारी कमला बहन जी छत्तीसगढ़ ब्रह्माकुमारीज़ सेवा केन्द्रों की क्षेत्रिय निदेशिका ने भिलाई स्थित सेक्टर-7,सडक़-2 के पीस ऑडिटोरियम में आओं बदलें हम स्व उन्नति कार्यक्रम के उद्घाटन के अवसर पर कही।
आगे आपने कहा कि हमारे एक संकल्प के पीछे अनेक संकल्पों की श्रंखला बन जाती है जिससे हमारी आत्मिक शक्तियाँ नष्ट हो जाती है। व्यर्थ संकल्पों के वंश को पैदा न होने दे,अंश में ही खत्म कर दे।
सर्व प्रथम छत्तीसगढ़ ब्रह्माकुमारीज़ सेवा केन्द्रों की क्षेत्रिय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला बहन जी, भिलाई सेवाकेन्द्रों की मुख्य संचालिका ब्रह्माकुमारी आशा,एवं भिलाई स्थित सभी ब्रह्माकुमारी सेवाकेन्द्रों की बहनों सहित सभा में उपस्थित सभी ब्रह्मावत्सों ने भी दिप प्रज्ज्वलन कर ‘‘आओं बदलें हम’’ स्व उन्नति कार्यक्रम का विधिवत् शुभारंभ किया।
कमला बहन जी ने कहा कि मनुष्य की इच्छाएं ब्रह्माण्ड जैसी है जिसकी तृप्ति कोई मनुष्य नही कर सकता सिवाय परमात्मा के। भौतिक युग में साधनों को आवश्यकता अनुसार उपयोग करना है न कि आसक्ति के वश। जन्म-जन्मातंर कर्मइन्द्रियों के वश होकर मनुष्य ने पाप कर्म किये है अब राजयोग के द्वारा कर्मइन्द्रियों को वश में रख पुण्य कर्म करना है।
ब्रह्माकु मारी माधुरी ने आओं बदलें हम कार्यक्रम की रूप रेखा बताते हुए कहा कि संकल्प,बोल,दृष्टि,संस्कार, को परिवर्तन करने हेतु इस स्व उन्नति के कार्यक्रम को बनाया गया है। प्रथम 21 दिनों के अभ्यास में बोल पर अटेंशन देना है।
ब्रह्माकु मार पोषण ने सुंदर गीत आओं बदलें हम तो बदले जग गाकर सर्व को इस स्वपरिवर्तन के प्रति दृढ़ संकल्पित कर दिया।ALL BK ALL BK SISTER LIGHTING THE LAMP ALL BK SISTERS AOUDIANCE BK KAMLA & BK ASHA (1) BK POSHAN SONG

Bhagirath Ganga Awtaran Jhanki

भागीरथ द्वारा गंगा अवतरण की झांकी में बड़ी संख्या में भिलाई के गणमान्य नागरिक दर्शन लाभ  ले रहे है | झांकी अवलोकन के पश्चात् सभी ने अपनी बुराइयों को शिवलिंग के आगे हवनकुंड में स्वाहा किया |

मुख्य रूप से छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ़ कॉमर्स के संरक्षक भ्राता अर्जुन दास जी उपस्तिथ रहे |

 

 

GANGA AWTARAN JHANKI (1)GANGA AWTARAN JHANKI (2)

Teachers day 2016

15a

Bhilai1